युवक ने अपनी ही बहन से रचाई शादी, बहन के ही साथ लिए सात फेरे

उत्‍तर प्रदेश के फिरोजाबाद में एक अजीबो-गरीब मामला सामने आया है। आरोप है क‍ि मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना (Mukhyamantri Samuhik Vivah Yojana) के तहत मिलने वाले लाभ के लालच में चचेरे भाई-बहन ने आपस में ही शादी कर ली। एक दूसरे मामले में तो विवाहिता ने दोबारा शादी कर ली। घटना से हड़कंप मच गया है। संबंधित अधिकारियों से जवाब मांगा गया है।

मामला फिरोजाबाद के टूंडला का है। यहां पिछले शनिवार को 51 जोड़े मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत शादी के बंधन में बंधे। इस सामूहिक विवाह कार्यक्रम में नगरपालिका टूंडला, ब्लाक टूंडला और ब्लॉक नारखी के जोड़ों ने विवाह रचाया। योजना के अनुसार जोड़ों को सरकार की तरफ से सभी जोड़ों को गृहस्थी का सामान और कपड़े दिए गए।

भाई-बहन के विवाह का मामला तब सामने आया जब शादी की तस्‍वीरें शेयर होने लगीं। इसके बाद फर्जीवाड़े के चार मामले सामने आए। इनमें से एक मामले में शादी रचाने वाले जोड़े भाई-बहन बताए जा रहे। इस मामले में जांच के बाद नगला प्रेम (घड़ी) के रहने वाले भाई के खिलाफ समाज कल्याण विभाग के सहायक विकास अधिकारी चंद्रभान सिंह ने शिकायत दर्ज कराई है। एक दूसरे मामले में सामने आया है क‍ि पहले से ही शादी-शुदा से एक जोड़े ने योजना के फायदे के लिए दोबार शादी कर ली। इस मामले की भी जांच हो रही है।

मामले के जोर पकड़ने के बाद संबंधित अध‍िकारियों को जवाब मांगे गये हैं। मामले को लेकर टूंडला के खंड विकास अधिकारी (BDO) नरेश कुमार ने बताया कि शादी के लिए जोड़ों की लिस्ट तैयार करके उनका वेरिफिकेशन करने वाले वाले ग्राम पंचायत सचिव मरसेना कुशलपाल, ग्राम पंचायत घिरौली सचिव अनुराग सिंह, एडीओ कॉपरेटिव सुधीर कुमार एडीओ समाज कल्याण विभाग चंद्रभान सिंह से स्पष्टीकरण मांगा गया है। जवाब नहीं आता तो इनके खिलाफ सख्‍त कार्रवाई होगी।

नरेश कुमार ने अभी भी बताया क‍ि भर्जी तरीके से शादी करने के मामले में आरोपी भाई के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया है। फर्जीवाड़ा करने वाले अन्य जोड़ों के खिलाफ भी कार्रवाई की गई है। दोबारा शादी करने वाली अपात्र महिला से शादी में दिया हुआ सामान वापस ले लिया गया है। मामले की जांच चल रही है।

वहीं इस मामले को लेकर टूंडला कोतवाली के थाना प्रभारी राजेश कुमार पांडेय ने बताया क‍ि समाज कल्याण विभाग के सहायक विकास अधिकारी द्वारा सामूहिक विवाह समारोह में अनुपस्थित जोड़ों के स्थान पर फर्जी तरीके से शादी करने के मामले में तहरीर दी गई है। जांच की जा रही है। जांच के बाद मुकदमा दर्ज कर आरोपी के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.