वर्षों से अपनी पत्नी के साथ अंधा बनकर रह ये शख्स, वजह जानकर छलक जाएंगे आपके आंसू

कहा जाता है कि मनुष्य को चित्रों की बजाय चरित्र की पूजा करनी चाहिए. क्योंकि इंसान के जीवन की खूबसूरती उसे एक दिन साथ छोड़ जाती है. लेकिन उनका चरित्र उनका पीछा नहीं छोड़ता. आज हम आपको एक ऐसी कहानी बताने जा रहे हैं जिसे सुनकर आपकी आंखें नम हो जाएंगी.

ये कहानी कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु की हैं. यहाँ एक आमिर परिवार का लड़का रहता है. जिसका नाम शिवम था. एक दिन जब वह कॉलेज जा रहा था तो उसने एक लड़की को देखा. उसे देखकर शिवम को उससे प्यार हो गया. शिवम ने कुछ दिनों तक उसका पीछा किया और जब उसे लगा कि उसे लड़की को प्रपोज करना चाहिए, तो उसने प्रपोज किया.

लेकिन लड़की जानती थी कि यह लड़का बैंगलोर के सबसे अमीर परिवार के लड़कों में से एक है. यह जानकर उसने लड़के के ऑफर को ठुकरा दिया. लेकिन लड़का हार मानने वालों में से नहीं था. वह अपने पिता के पास गया और उसे सारी बात बताई. शिवम अपने माता-पिता के साथ लड़की के घर गया था. अचानक लड़की को उसके माता-पिता के साथ देखकर शिवम बहुत डर गया. लेकिन लड़की के माता-पिता ने इस रिश्ते को कबूल कर लिया.

उसने सोचा कि अब उसकी बेटी की जिंदगी अच्छी होगी. लड़की बहुत सुंदर और बुद्धिमान थी. शिवम उसे बहुत प्यार करता था. उनकी प्रेम कहानी बहुत अच्छी चल रही थी. लेकिन शादी के बाद लड़की को एक बीमारी हो गई. जिससे उनका चेहरा बेकार होने लगा. उसकी सुंदरता दिन-प्रतिदिन कम होती जा रही थी.

शिवम की पत्नी को डर लगने लगा कि कहीं शिवम उसकी बुराई देखकर उसे छोड़ न दे, इससे वह काफी कमजोर भी हो गई थी। लेकिन अचानक उसे पता चलता है कि उसके पति का एक्सीडेंट हो गया है और दोनों की आंखें चली गई हैं, तब पत्नी को बहुत बुरा लगा. लेकिन उसे यकीन था कि अब शिवम उसे नहीं छोड़ेगा. अब शिवम को लड़की का चेहरा नजर नहीं आ रहा था.
यह सब कुछ सालों तक चलता रहा. लेकिन लड़की की तबीयत इतनी बढ़ गई थी कि उसे बचाया नहीं जा सकता था. इसके तुरंत बाद, लड़के ने शहर छोड़ने का फैसला किया. लेकिन अचानक उसे एक पड़ोसी मिल जाता है और वह पूछता है कि भाई तुम नहीं देख सकते. अब तुम अनजान शहर में कहाँ जाओगे? तब शिवम ने जो उत्तर दिया, वो सुनकर कि तुम्हारे पैरों तले से भूमि खिसक जाएगी.

शिवम ने पड़ोसी से कहा कि मैं कभी अंधा नहीं था. अगर मेरी पत्नी को पता चलता है कि मैं देख सकता हूं, तो उसे लगता है कि उसके लिए मेरा प्यार कम हो गया है. इससे वह कमजोर हो जाएगी और वह दुनिया छोड़ देगी. यह सुनकर पड़ोसी दंग रह गए. दुनिया में ऐसे लोग किसी भगवान के अवतार से कम नहीं हैं.

कैसी लगी आपको शिवम की प्रेम कहानी? कमेंट बॉक्स में अपनी राय जरुर दे.

कहा जाता है कि मनुष्य को चित्रों की बजाय चरित्र की पूजा करनी चाहिए. क्योंकि इंसान के जीवन की खूबसूरती उसे एक दिन साथ छोड़ जाती है. लेकिन उनका चरित्र उनका पीछा नहीं छोड़ता. आज हम आपको एक ऐसी कहानी बताने जा रहे हैं जिसे सुनकर आपकी आंखें नम हो जाएंगी. ये कहानी कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु की हैं. यहाँ एक आमिर परिवार का लड़का रहता है. जिसका नाम शिवम था. एक दिन जब वह कॉलेज जा रहा था तो उसने एक लड़की को देखा. उसे देखकर शिवम को उससे प्यार हो गया. शिवम ने कुछ दिनों तक उसका पीछा किया और जब उसे लगा कि उसे लड़की को प्रपोज करना चाहिए, तो उसने प्रपोज किया. लेकिन लड़की जानती थी कि यह लड़का बैंगलोर के सबसे अमीर परिवार के लड़कों में से एक है. यह जानकर उसने लड़के के ऑफर को ठुकरा दिया. लेकिन लड़का हार मानने वालों में से नहीं था. वह अपने पिता के पास गया और उसे सारी बात बताई. शिवम अपने माता-पिता के साथ लड़की के घर गया था. अचानक लड़की को उसके माता-पिता के साथ देखकर शिवम बहुत डर गया. लेकिन लड़की के माता-पिता ने इस रिश्ते को कबूल कर लिया. उसने सोचा कि अब उसकी बेटी की जिंदगी अच्छी होगी. लड़की बहुत सुंदर और बुद्धिमान थी. शिवम उसे बहुत प्यार करता था. उनकी प्रेम कहानी बहुत अच्छी चल रही थी. लेकिन शादी के बाद लड़की को एक बीमारी हो गई. जिससे उनका चेहरा बेकार होने लगा. उसकी सुंदरता दिन-प्रतिदिन कम होती जा रही थी.

शिवम की पत्नी को डर लगने लगा कि कहीं शिवम उसकी बुराई देखकर उसे छोड़ न दे, इससे वह काफी कमजोर भी हो गई थी। लेकिन अचानक उसे पता चलता है कि उसके पति का एक्सीडेंट हो गया है और दोनों की आंखें चली गई हैं, तब पत्नी को बहुत बुरा लगा. लेकिन उसे यकीन था कि अब शिवम उसे नहीं छोड़ेगा. अब शिवम को लड़की का चेहरा नजर नहीं आ रहा था. यह सब कुछ सालों तक चलता रहा. लेकिन लड़की की तबीयत इतनी बढ़ गई थी कि उसे बचाया नहीं जा सकता था. इसके तुरंत बाद, लड़के ने शहर छोड़ने का फैसला किया. लेकिन अचानक उसे एक पड़ोसी मिल जाता है और वह पूछता है कि भाई तुम नहीं देख सकते. अब तुम अनजान शहर में कहाँ जाओगे? तब शिवम ने जो उत्तर दिया, वो सुनकर कि तुम्हारे पैरों तले से भूमि खिसक जाएगी. शिवम ने पड़ोसी से कहा कि मैं कभी अंधा नहीं था. अगर मेरी पत्नी को पता चलता है कि मैं देख सकता हूं, तो उसे लगता है कि उसके लिए मेरा प्यार कम हो गया है. इससे वह कमजोर हो जाएगी और वह दुनिया छोड़ देगी. यह सुनकर पड़ोसी दंग रह गए. दुनिया में ऐसे लोग किसी भगवान के अवतार से कम नहीं हैं. कैसी लगी आपको शिवम की प्रेम कहानी? कमेंट बॉक्स में अपनी राय जरुर दे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.