T20 वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के खिलाफ अकेले क्यों लड़ते रहे विराट कोहली जानिए

पूरी दुनिया चिल्ला रही थी कि पाकिस्तान टी-20 वर्ल्ड कप में भारत से बुरी तरह हारेगा । पर अंदर से डर लग रहा था कि विराट के अलावा उस दिन कोई नहीं मारेगा । उम्मीद के मुताबिक अपना हीरो कोहली अकेले पाकिस्तानियों से शेर की तरह लड़ता रहा । बाकी खिलाड़ियों का आना और पीठ दिखा कर चले जाना देश को अखरता रहा ।

 

सबको महसूस हो रहा था कि पाकिस्तान के खिलाफ इतना शर्मनाक प्रदर्शन अचानक नहीं हुआ , ऐसा लगा कि उस मैच में किसी भारतीय की कबूल नहीं हुई दुआ । जब अपने पसीने की हर बूंद निचोड़कर भी विराट भारत को नहीं जिता पाया , तो वह अंदर से टूट कर पैवेलियन वापस आया । सोचो क्या बीती होगी उस बाप पर जिसकी छोटी सी बेटी को एक सिरफिरे ने हार के बाद रेप की धमकी दी । मानो उस दरिंदे ने विराट की ज़िंदगी से रौशनी की हर उम्मीद छीन ली ।

इतना सब होने के बाद भी अपना भाई चुप रहा । उसने किसी के भी खिलाफ कुछ नहीं कहा । फिर लोग अफगानिस्तान और स्कॉटलैंड के खिलाफ छक्के मारने वालों के लिए खुशी से चिल्लाने लगे । पाकिस्तान और न्यूजीलैंड से मिली शर्मनाक हार का गम भुलाने लगे । परंतु इस पल में अपना विराट जानता था कि अब यह सफर खत्म हुआ । अंतिम 2 मुकाबलों में इसलिए उसने बल्ला भी नहीं छुआ ।

विराट के होठों पर हँसी थी लेकिन आँखों में उदासी थी । इस बार उसकी निगाह जीत की प्यासी थी । पर मजबूत टीमों के खिलाफ मानो टीम ने बिना लड़े हथियार डाल दिए । बुरी तरह हार कर सारे खिलाड़ी कप्तान की इज्जत हवा में उछाल दिए । कोहली की जगह कोई और होता तो बाकी खिलाड़ियों पर आरोप लगाकर चुपचाप निकल जाता । पर अपना हीरो कैसे दूसरों की तरह ईमान से फिसल जाता ।

विराट ने अपनी जुबान के मुताबिक कप्तान का पद छोड़ दिया , करोड़ों चाहने वालों का दिल तोड़ दिया । किंतु हम जानते हैं कि अभी खत्म नहीं हुई है उसकी कहानी , मैदान पर वापसी होगी इतिहास में सबसे तूफानी ।

असल मैं विराट कोहली को शब्दो मैं परिभाषित नहीं किया जा सकता।वो ऐसा व्यक्तित्व जो हर कोई नहीं बन सकता।वो दुनिया के तमाम खेल प्रेमियों के लिए एक रोल मॉडल है।असल मैं वो वर्ल्ड क्रिकेट के ब्रांड एम्बेसडर है।वो खेल को जीते है अपना बेस्ट देने की कोशिश करते है।हार उन्हें पसंद नहीं इसीलिए वो एटीट्यूड और अपने एग्रेशन के साथ खेलते है।पूरी भारतीय क्रिकेट टीम मैं उन्होंने एक निडर और बेखोप से क्रिकेट खेलने का एक नया माहौल बनाया है।जिसकी पूरी दुनिया मैं उनकी मिशाल है।ये लिविंग लेजेंड है।जरूर हाल फिलहाल मैं किस्मत उनका साथ ना दे रही हो फिर भी वो इंडियन क्रिकेट टीम को कई उपलब्धियां हासिल कर चुके है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.