क्या आप जानतें हैं कंगना रनौत से जुड़े 15 दिलचस्प तथ्य? जानकर हो जाओगे हैरान

बॉलीवुड इंडस्ट्री में क्वीन के नाम से मशहूर कंगना रनौत किसी पहचान की मोहताज नहीं हैं। ये आज बॉलीवुड की टॉप एक्ट्रेस में गिनी जाती है। इन्होंने कई हिंदी फ़िल्मों में काम किया और अपने अभिनय का लोहा मनवाया।

फ़िल्मों के अलावा वह अपने बेबाक अंदाज़ में टिप्पणी के लिए हमेशा चर्चा में रही हैं। उनका यह बेबाक अंदाज़ ही लोगो के दिलो के उनके लिए एक अलग स्थान बनाता है।

आज इस लेख में हम कंगना रनौत से जुड़ी उन सभी बातों का ज़िक्र करेंगे जो शायद बहुत कम लोग ही जानते हैं।

कंगना रनौत का पूरा नाम कंगनाअमरदीपरनौत है। इनका जन्म 23 मार्च सन् 1987 में हिमाचल प्रदेश के मंडी ज़िले के भांभला नामक कस्बे में हुआ था। उनकी मां एक संस्कृत टीचर हैं और पिता एक बिज़नेसमैन है। उनका एक भाई और एक बहन हैं ।

कंगना की पढ़ाई चंडीगढ़ के डीएवीस्कूल में हुई। उनके पिता चाहते थे की कंगना एक डॉक्टर बने, पर 12वीं क्लास में वह केमिस्ट्री में फेल हो गई ।

स्कूल के दिनो से ही उनको रैंप वॉक और स्कूल के सभी फंक्शन में हिस्सा लेना अच्छा लगता था। कोई भी फंक्शन उनसे छूटता नही था। जब उनके पिता को इसकी जानकारी मिली तो वह बहुत गुस्सा हुए और कंगना की पिटाई भी की ।

बगावती अंदाज़ वाली कंगना ने महज़ 16 साल की उम्र में घर छोड़ दिया और दिल्ली आ गई। यहां आकर उन्होंने थियेटर ग्रुप ज्वाइन कर लिया। सालों तक उन्होंने अपने पिता से बात नहीं की। उनके पिता उनके इस कदम से खासा नाराज़ थे।

सन् 2006 में कंगना रनौत ने रोमांटिक थ्रिलर फ़िल्म गैंगस्टर से बॉलीवुड करियर की शुरुआत की। इस मूवी के लिए कहा जाता है कि अनुरागबासुने पहली बार कंगना को एक कॉफी शॉप में देखा था ।

कंगना ने एक इंटरव्यू में बताया कि उनकी पहली फ़िल्म देखकर उनके दादाजी खासा नाराज़ हुए। नाराज़ होने की वजह फ़िल्म में दिखाया गया एक किस सीन था।

उनकी एक बड़ी बहन रंगोली रनौत है, जिनपर सन् 2005 में एसिड अटैक हुआ था। इस हादसे ने कंगना को अंदर से हिलाकर रख दिया। हालांकि अब रंगोली इससे उबर चुकी है और कंगना की मैनेजर है। कंगना अपनी बहन के ऊपर एक बायोपिक भी बनाना चाहती हैं ।

इन्हे अपने फ़िल्म फैशन के लिए सन् 2008 में नेशनल अवार्ड से नवाज़ा गया। यह अवार्ड पाने वाली वह सबसे कम उम्र की एक्ट्रेस है। उस समय उनकी उम्र महज़ 22 साल थी।

उनके नाम कुल 4 नेशनल अवॉर्ड है। फैशन मूवी के अलावा उन्हें 2014 में क्वीन के लिए, 2015 में तनुवेड्समनु के लिए और 2021 में फ़िल्म मणिकर्णिकाके लिए नेशनल अवार्ड से सम्मानित किया गया।

फोर्ब्स इंडिया ने कुल 5 बार इन्हें टॉप 100 सेलिब्रिटी की लिस्ट में शुमार किया है। पेटा ने भी कंगना को इंडिया की सबसेहॉटेस्टवेजेटेरियन का टाइटल 2013 में दिया ।

बहुत कम लोग जानते है की कंगना फ़िल्म क्वीन के डायलॉग लेखन में वह को-राइटर थी। स्क्रिप्ट राइटिंग कोर्स के लिए वह न्यू यॉर्क भी गई ।

सन् 2013 में एक इंटरव्यू के दौरान वह नेपोटिज्म के खिलाफ बोली। इसके साथ उन्होंने फेयरनेस क्रीम के एक विज्ञापन के लिए ₹ 2 करोड़ का प्रस्ताव ठुकरा दिया ।

मणिकर्णिका: दक्वीनऑफझांसी उनकी पहली फ़िल्म थी जिसमे वह एक्टर के साथ साथ डायरेक्टर भी थीं। इसी फ़िल्म के लिए उन्हें नेशनल अवार्ड भी दिया गया ।

वह एक प्रशिक्षित कथक डांसर हैं। साथ ही उन्हें बुक पढ़ने का बहुत शौक है। कंगना के मुताबिक उन्होंने अपने जीवन में मात्र 10 फ़िल्में देखी हैं। वैसे कंगना एक अच्छी बास्केट बॉल खिलाड़ी भी हैं ।

नेशनल अवॉर्ड के अलावा कंगना ने कुल 4 बार फ़िल्मफेयरअवार्ड्स भी जीता है जिसमे से एक तो उन्हें अपनी पहली फ़िल्म गैंगस्टर के लिए मिला है ।

(साभार)

Leave a Reply

Your email address will not be published.