पंत ने रचा इतिहास, तूफानी बल्लेबाजी कर मचाया गदर, तोड़ा 14 साल का महारिकॉर्ड, मोईन भी छाए

आईपीएल 2021 का पहला क्वालीफायर मुकाबला दिल्ली कैपिटल और चेन्नई सुपरकिंग्स के बीच खेला गया.
इस मैंच में चेन्नई ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का निर्णय लिया. सीएसके के आमंत्रण पर बल्लेबाजी के लिए उतरी दिल्ली की टीम ने 20 ओवर में 20 ओवर में 5 विकेट खोकर 172 रन बनाए.
सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ ने 34 गेंदो पर 7 चौको और 3 छक्कों की मदद से 60 रनों की आतिशी पारी खेली. हांलकी शिखर धवन (7),श्रेयष अय्यर (1) और अक्षर पटेल (10) के रूप में टीम ने जल्दी-जल्दी तीन विकेट गवां दिए.

इसके बाद बल्लेबाजी के लिए उतरे कप्तान ऋषभ पंत ने विस्फोटक बल्लेबाजी करते हुए चेन्नई के गेंदबाजों की जमकर खबर ली. उन्होने 35 गेंदो पर 3 चौको और 2 छक्कों की मदद से 51 रनों की ताड़तोड़ पारी खेली.
पंत ने हेटमायर के साथ मिलकर पांचवे विकेट के लिए 50 गेंदो पर 83 रन जोड़े. हेटमेयर ने 24 गेंदो पर 3 चौको और 1 छक्के की मदद से 24 गेदों पर 37 रन बनाए. जिसके दम पर दिल्ली की टीम ने 173 रनों का लक्ष्य चेन्नै के समक्ष रखा.

चेन्नई की तरफ से हेजलवुड ने 2 विकेट लिए. इसके अलावा जडेजा, मोईऩ अली और ब्रावो को एक-एक सफलता मिली. मोईन ने किफायती गेंदबाजी करते हुए 4 ओवर में 27 खर्च किए.

टॉस हारने वाले दिल्ली के कप्तान ऋषभ पंत ने आईपीएल के 14 साल के इतिहास में एक खास रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है. वह प्लेऑफ में खेलने वाले आईपीएल के किसी भी टीम के सबसे युवा कप्तान बन गए हैं. पंत अभी 24 साल 6 दिन के हैं और वह आईपीएल इतिहास के सबसे युवा कप्‍तान में भी शुमार हैं.

पंत ने जब इस साल चेन्‍नई सुपर किंग्‍स के खिलाफ अप्रैल में कप्‍तानी में डेब्‍यू किया था, तब उनकी उम्र 23 साल 6 महीने और 6 दिन थी. वह आईपीएल इतिहास के 5वें सबसे युवा कप्‍तान हैं. इस लिस्‍ट में विराट कोहली उससे ऊपर हैं. विराट कोहली ने 2011 में 22 साल 4 महीने 6 दिन की उम्र में बैंगलोर टीम की कमान संभाली थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.