मां-बाप 19 साल की उम्र में बनाना चाहते थे दुल्‍हन, देश छोड़कर भागी और बनी देश की एकमात्र पॉर्न स्‍टार….

अफगानिस्‍तान में महिलाओं को तमाम बंदिशों में रखा जाता है. ऐसे में वहां की किसी महिला का पॉ र्न स्‍टार होना अपने आप में बड़ी बात है. अफगानिस्‍तान की एकमात्र पॉ र्न स्‍टार यास्‍मीना अली ने अपनी जिंदगी के बारे में कुछ हैरान कर देने वाली बातों का खुलासा किया.

19 साल की उम्र में पैरेंट्स करवा देना चाहते थे शादी
Daily Star की खबर के अनुसार, 1990 के दशक में तालिबान के सत्ता में आने के बाद यास्‍मीना अली और उनके परिवार ने अफगानिस्तान छोड़ दिया. वे ब्रिटेन चले गए जहां यास्‍मीना ने आगे की तालीम हासिल की. उनके माता-पिता चाहते थे कि वह 19 साल की उम्र में दुल्हन बन जाएं लेकिन यास्‍मीना को यह मंजूर नहीं था.

इस्‍ लाम धर्म त्‍याग कर पॉ र्न इंडस्‍ट्री में गई यास्‍मीना
यास्‍मीना ने इस्‍ला म धर्म को त्‍याग कर पॉ र्न इंडस्‍ट्री में कदम रखा. माता-पिता ने विरोध किया तो वह 19 साल की उम्र में ही घर से भाग गई. उसके बाद यास्‍मीना ने फिर कभी अपने पैरेंट्स से बात नहीं की और न ही करना चाहती है.

यास्‍मीना ने बताया कि उसे इस बात की परवाह नहीं कि उसके पैरेंट्स पॉर्न इंडस्‍ट्री में जाने के बारे में क्‍या सोचते हैं. उसे यकीन है वह उसके बारे में गलत ही सोचते होंगे.

तालिबानी ज्यादातर उसके कंटेंट से नफरत करते हैं
तालिबान पॉ र्न वेबसाइट के माध्यम से पूरी जानकारी रखता है. यास्‍मीना ने नास्तिक बनने के लिए अपनी मु स्लिम धर्म को छोड़ दिया. उसका मानना है कि तालिबान पॉ र्न वेबसाइट के माध्यम से उनके बारे में सब कुछ जानता है. तालिबानी ज्यादातर उसके कंटेंट से नफरत करते हैं क्योंकि वे नहीं चाहते कि अफगानिस्तान पॉ र्न के लिए जाना जाए.

Leave a Comment