धर्मेंद्र की बहन ही दुआ करती थीं अभय देओल की फिल्म बैन होने की

देओल परिवार फिल्म इंडस्ट्री में एक बड़ा नाम है और धर्मेंद्र से लेकर सन्नी देओल बाबी देओल और ऐशा देओल भी इंडस्ट्री में धाक जमा चुके हैं
वहीं देओल परिवार में एक नाम और है जो अपनी अदाकारी से अलग छाप छोड़ चुका है
जी हां हम बात कर रहे हैं अभय देओल की
सुपरस्टार धर्मेंद्र के भतीजे अभय देओल ने साल 2005 में रिलीज हुई फिल्म सोच न था से अपने करियर की शुरुआत की थी। पहली ही फिल्म में अभय ने साबित कर दिया था कि वह बॉलीवुड में लंबी पारी खेलने आए हैं। उनकी एक्टिंग की इस फिल्म में काफी तारीफ भी हुई थी। साल 2009 में अभय की फिल्म देव डी रिलीज हुई थी। फिल्म अपनी कहानी को लेकर काफी चर्चा में रही थी। यही वजह है कि धर्मेंद्र की बहन यानी अभय की बुआ नहीं चाहती थीं कि ये फिल्म रिलीज हो
अभय देओल ने एक्ट्रेस और टीवी होस्ट सिमी गरेवाल के साथ एक इंटरव्यू में इसका खुद खुलाया किया था। अभय ने बताया था, मेरे परिवार का नाम पहले से फिल्म इंडस्ट्री में बहुत बड़ा था, इसलिए खुद को साबित करना मेरे लिए एक चुनौती जैसा ही था। मेरे भाई और ताऊ एक बड़े स्टार हैं। मैं मुंबई में पैदा हुआ और यहां के रहन-सहन से काफी प्रभावित भी था। मेरे पिता की बहन यानी मेरी बुआ ने देव डी रिलीज से पहले देख ली थी। उन्होंने घर जाकर दुआ की थी कि ये फिल्म रिलीज नहीं होनी चाहिए और वो भगवान से दुआ करने लगीं कि ये बैन हो जाए।’

देओल से कैसा है रिश्ता .

अभय देओल बताते हैं, सनी भैया मुझसे उम्र में बहुत बड़े हैं। इसलिए उनके सामने तो मैं कम ही हंसी-मजाक करता हूं। लेकिन बॉबी और मेरी दोस्ती कमाल की है। मुझे बचपन से ही बॉबी बहुत परेशान भी करता था और हम एक-दूसरे के साथ खूब खेला भी करते थे। भले ही बॉबी मुझे पीछे कितना परेशान कर ले, लेकिन भैया के सामने मुझे कुछ कहने की उसकी भी हिम्मत नहीं होती है।’

बता दें, देव डी को अनुराग कश्यप ने डायरेक्ट किया था। इस फिल्म को रॉनी स्क्रूवाला ने प्रोड्यूस किया था। फिल्म में अभय के अलावा लीड रोल में माही गिल, कल्कि कोचलिन, परख मदान लीड रोल में नज़र आई थीं

Leave a Reply

Your email address will not be published.