अपनी ही “बहू” के साथ प्यार में पड़ गए थे “पूनम के बाउजी” आलोकनाथ…..

हॉलीवुड में शायद ही कोई ऐसा अभिनेता है जिसके संबंधों के चर्चे अखबारों की सुर्खियां ना बने हो। चाहे वह स्टार सिनेमा के पर्दो पर कितना भी संस्कारी, कितना भी शरीफ और कितना भी सीधा-साधा किरदार अदा करता हो, लेकिन असल जिंदगी में आपको उनकी एक अलग ही इमेज देखने को मिलती है, जो वाकई हैरान कर देने वाली होती है। आज आपको हम उस अभिनेता के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसने पर्दे पर तो सबसे ज्यादा संस्कारी और संयमित ससुर का किरदार निभाया है, लेकिन असल जिंदगी में उनके रंगीन मिजाज पर कई किस्से छप चुके हैं।

हम बात कर रहे हैं आलोक नाथ की। अगर नाम से आप नहीं पहचान पा रहे हैं तो फिल्मों से पहचान लीजिए। “हम साथ-साथ हैं”, “हम आपके हैं कौन” जैसी बेहतरीन फिल्मों में पिता की भूमिका निभा चुके आलोक नाथ अक्सर सलमान खान की फिल्मों में उनके पिता के किरदार में देखे गए हैं. हाल ही में विवाह फ़िल्म में अमृता राव यानी “पूनम के बाउजी” का किरदार जबरदस्त हिट रहा था। संस्कारी बाबूजी का किरदार निभाने वाले आलोक नाथ अपनी ही ऑन स्क्रीन बहू पर दिल हार गए थे। बात 80 के दशक की है जब आलोक नाथ फिल्मों में नए-नए आए थे।

1982 में आई फिल्म “गांधी” के साथ आलोक नाथ ने बॉलीवुड में अपना डेब्यू किया था। उस वक्त आलोक नाथ के सितारे बुलंद थे और वह सफलता की ऊंचाइयों पर धीरे-धीरे चढ़ रहे थे। तभी उनकी मुलाकात जानी-मानी अभिनेत्री नीना गुप्ता से हुई थी, जिसके बाद वह उनके प्यार में दीवाने हो गए थे। उसके आलोक नाथ और नीना गुप्ता के नज़दीकियों के किस्से पत्र-पत्रिकाओं में अक्सर दिख जाया करते थे।

आपको बता दें कि तब एक टीवी शो आया करता था, जिसमें नीना गुप्ता आलोक नाथ की बहू का किरदार निभा रही थी। यानी उस दौर में आलोक नाथ अपनी ऑनस्क्रीन बहू के साथ प्यार में पड़े हुए थे। हालांकि यह रिश्ता ज्यादा दिन तक नहीं चला और टीवी सीरियल खत्म होने से पहले ही टूट गया। रिश्ता टूटने की वजह नीना गुप्ता का कोई दूसरा अफेयर बताया जाता है। हाल ही में आपने नीना गुप्ता को फिल्म “बधाई हो” में आयुष्मान खुराना की मां के रूप में देखा गया है।

बता दें कि अभिनेता आलोक नाथ कई बड़ी फिल्मों में काम कर चुके हैं। इसके अलावा वह कई टीवी धारावाहिकों में भी एक संस्कारी पिता का किरदार निभा चुके हैं। फ़िल्म हम साथ-साथ हैं, हम आपके हैं कौन, परदेस, विवाह जैसी शानदार फिल्में उनके कैरियर में शामिल है। वहीं टीवी सीरियल की बात करें तो यहां मैं घर घर खेली, विदाई और ये रिश्ता क्या कहलाता है जैसे कुछ सीरियल्स आलोक नाथ के अहम किरदारों की परिभाषा आज भी बखूबी बयान करते हैं।

Leave a Comment