गलती से खाते में आये ₹5.5 लाख, शख्स ने कहा- मोदी ने भेजी है 15 लाख की पहली किस्त, नही करूंगा वापस

बिहार के खगड़िया से एक दिलचस्प घटना सामने आई है. यहां एक शख्स के खाते में गलती से 5.50 लाख रुपए आ गए. शख्स ने इसे मोदी सरकार से मिली सहायता समझकर खर्च भी कर दिया. जब बैंक अधिकारियों को अपनी गलती का अहसास हुआ, तो उन्होंने शख्स से पैसे लौटाने को कहा. लेकिन शख्स ने पैसे लौटाने से इनकार कर दिया.

बैंक अधिकारियों की शिकायत के आधार पर पुलिस ने शख्स को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. दरअसल, खगड़िया के मानसी प्रखण्ड के बख्तियारपुर ग्रामीण बैंक शाखा के खाताधारक के खाते में बैंककर्मियों की गलती की वजह से 5.50 लाख रु ट्रांसफर हो गए.

खाताधारक रंजीत कुमार दास अपने खाते में पैसों को देखकर खुश हो गया. उसने इसे सरकार से मिली मदद समझकर खर्च भी कर लिया. बैंक को पैसे लौटाने से किया इनकार
जब बैंक अधिकारियों को अपनी भूल का एहसास हुआ तो उनके होश उड़ गए.

उन्होंने रंजीत से बैंक के पैसे लौटाने को कहा. इसपर रंजीत ने कहा, यह पैसे मोदी सरकार ने भेजे हैं, इसलिए वह इन्हें नहीं लौटाएगा. इसके बाद  ग्रामीण बैंक की बख्तियारपुर शाखा ने रंजीत के नाम नोटिस जारी किया. इसके बावजूद रंजीत ने पैसे नहीं लौटाए.

इसके बाद बैंक अधिकारियों ने रंजीत के खिलाफ केस दर्ज कराया. पुलिस ने मामला दर्ज कर रंजीत को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस इस मामले में जांच में जुट गई है. शुरुआती जांच में पुलिस को पता चला है कि रंजीत के खाते में 5.50 लाख रुपए ट्रांसफर हुए थे. इन्हें उसने खर्च कर लिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published.