Monday, September 26, 2022
Home Latest 12 साल की उम्र में हुई शादी, पति ने किया रेप, घर...

12 साल की उम्र में हुई शादी, पति ने किया रेप, घर छोड़ भागी, आज लाखों लोग हैं उनके फैंस

लखनऊ: अगर इंसान कुछ पाने की कोशिश करे तो वह जरुर पा सकता है. चाहे उसके जीवन कितनी भी समस्याएं आए लेकिन वह उन समस्याओं ने लड़कर अपने भविष्य को संवार सकता है. ऐसे में चलिए आज हम आपको एक ऐसी महिला लेखिका के बारे में बताएंगे जिसने घनघोर अत्याचार से लड़कर जीवन में सफलता की बुलंदियों को प्राप्त किया.
जानकारी के मुताबिक सन 1973 में कश्मीर में जन्मी बेबी हलदर का जीवन बहुत ही ज्यादा संघर्षों के बीच से होते हुए गुजरा है. बेबी हलदर महज 4 साल की उम्र की थी जब उनकी मां दुनिया में उन्हें छोड़ कर चली गई. बेबी का पालन पोषण उनके पिता ने ही किया. बेबी के पिता काशी बहुत ज्यादा शराब पिया करते थे, जिसके बाद वह बेबी को मारते थे. मां के गुजरने के बाद बेबी के पिता उन्हें लेकर पश्चिम बंगाल के दुर्गापुर रहने के लिए चले गए. जहां उन्होंने दूसरी शादी कर ली. जिसके बाद घर में सौतेली मां के आते ही उनकी जिंदगी और बेकार हो गई. वह बेबी से घर के सारे काम कराती और न काम करने पर मारती–पीटती थी.
पिता का घर छोड़ पति के घर भी नहीं मिला बेबी हलदर को सुख
वहीँ जब बेबी महज 12 साल की थी तब उनका विवाह उनसे दुगने वर्ष बड़े आदमी के साथ कर दिया गया. विवाह के बाद बेबी को लगा कि अब उनकी जिंदगी संवर जाएगी और उन्हें अत्याचारों से मुक्ति मिलेगी ,परंतु इसका उल्टा हुआ. कहते हैं कुछ लोगों की जिंदगी में भगवान दुखों के अलावा कुछ लिखता ही नहीं है. ठीक इसी तरह बेबी हलदर का दुख कम होने के बजाए बढ़ गया.

बेबी के पति ने महज 12 साल की उम्र में ही उसके पति ने रेप कर दिया. जिसके बाद वह एक बच्चे की मां बन गई. बेबी जब 15 साल की हुई तब तक वह 3 बच्चों की मान बन चुकी थी. बच्चे होने के बाद भी पति का अत्याचार कम नहीं हो रहा था. वह बेबी को रोज मारता और गन्दी-गन्दी गालिया देता था. जिसकी वजह से वह पति से बहुत परेशान हो चुकी थी.

12 साल की मासूम बेबी हलदर के पति ने किया था रेप, बनी थी एक बच्चे की मां
आखिरकार साल 1999 में वह समय आया जब बेबी ने एक साहसी निर्णय लिया. बेबी ने अपने पति का घर छोड़ कर भाग जाने का निर्णय लिया. बेबी ने अपने तीनों बच्चों को साथ लिया और घर से निकल गई. वह ट्रेन में बैठकर दिल्ली के गुरुग्राम पहुंची. जहां वह झोपड़ी बनाकर अपने बच्चों के साथ रहने लगी और गुजारा करने के लिए लोगों के घर में झाड़ू पोछा लगाने का काम करने लगी. संयोग से बेबी ने एक घर का दरवाजा खटखटाया. उस घर के मालिक कोई और नहीं बल्कि मुंशी प्रेमचंद के पोते प्रबोध कुमार थे.
जिसके बाद बेबी की किस्मत चमक गई. बेबी प्रबोध कुमार के घर में झाड़ू पोछा लगाने का काम करती थी इसी दौरान प्रबोध कुमार के घर में रखी हुई किताबों के ऊपर बार-बार बेबी नजर डालती थी. प्रबोध कुमार ने बेबी की इन हरकतों को नोटिस किया. एक दिन बेबी को पेन और कागज दे कर प्रबोध कुमार ने कहा कि वे अपने बारे में जो भी मन में आए वह सब कुछ इस कागज पर लिख दें. जब प्रबोध कुमार ने बेबी से लिखने को कहा तो उन्होंने अपने बीते हुए कल के बारे में लिखना शुरू कर दिया और वह लिखती चली गई

बेबी ने अपनी जीवन के बारे में जो कुछ भी लिखा वह प्रबोध कुमार को दिखाया. प्रबोध कुमार ने बेबी के द्वारा बांग्ला भाषा में लिखा हुआ हिंदी अनुवाद किया. प्रबोध कुमार बेबी की जीवनी पढ़कर इतने प्रभावित हुए कि उन्होंने उसकी एक किताब बना डाली. किताब का नाम रखा गया ‘आलो आंधारि’. इस किताब को पाठकों के द्वारा इतना पसंद किया गया कि यह किताब पूरे देश में धीरे-धीरे करके फैल गई. बाद में इस किताब का अंग्रेजी में भी अनुवाद किया गया और इसे विदेशों में भी काफी पसंद किया गया. अपने जीवन की घटनाओं को कागज पर उतारने वाली बेबी हलदर देखते ही देखते एक फेमस लेखिका बन गई. जिसके बाद उन्होंने 4 किताबें और लिखीं. इतना समृद्ध होने के बाद वह आज भी प्रबोध कुमार के घर पोछा-झाड़ू करती हैं.

RELATED ARTICLES

पहली बार ऑनलाइन स्ट्रीमिंग और इस टीवी चैनल पर दिखेगा भारत बनाम वेस्टइंडीज टी 20 सीरीज

भारत बनाम वेस्टइंडीज सीरीज 29 जुलाई से ब्रायन लारा स्टेडियम में शुरू होगी और यह किसी भी प्राइवेट टीवी चैनल पर लाइव नहीं होगी। इतने...

मगरमच्छ को बच्चे की तरह गोद में उठाया, वीडियो देख लोग हैरान

मगरमच्छ के खतरनाक जबड़ों से इंसान क्या जानवर भी दूर ही रहना चाहते हैं। लेकिन सोशल मीडिया पर एक ऐसे शख्स का वीडियो वायरल...

वीडियो: सिराज की गेंदबाजी के कायल हुए पाकिस्तान के दिग्गज क्रिकेटर

मोहम्मद सिराज ने आखिरी ओवर की पहली बॉल पांचवें स्‍टंप पर वाइड यॉर्कर फेंकी, जिस पर हुसैन कोई रन नहीं बना पाए। अगली बॉल...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

मिडिल ऑर्डर में सूर्या के साथ डट  किंग कोहली ने खोल दिया राज के पत्ते

नई दिल्ली: 9 साल बाद अपनी जमीन पर कंगारुओं को टी-20 सीरीज में हराना। नवरात्र की शुरुआत इससे खूबसूरत नहीं हो सकती थी। गेंदबाजी...

9 साल बाद ऑस्ट्रेलिया कंगारुओं को सूर्या ने पीटा, हुई रोमांचक जीत

नई दिल्ली:  सूर्यकुमार यादव और विराट कोहली के अर्धशतक की बदौलत भारत ने हैदराबाद में हुए तीसरे और आखिरी टी20 में ऑस्ट्रेलिया को 6...

दीप्ति शर्मा के समर्थन में उतरा इंग्लैंड का ये खिलाड़ी, लगाई फटकार

Alex Hales on Deepti's run-out 'not in spirit': आलराउंडर दीप्ति शर्मा (Deepti Sharma) ने इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे वनडे में शानदार परफॉर्मेंस कर भारत...

इन चार दिग्गज खिलाड़ियों को नहीं मिली टीम में जगह? होगा हंगामा?

नई दिल्ली: बता दे कि रोहित शर्मा की अगुवाई में भारतीय एशिया कप में खेलने के बाद अब ऑस्ट्रेलिया में T20 वर्ल्ड कप खेलने...

Recent Comments